Only romantic people

1 Post  ·  2 Users
About this group

Romantic shayri allowed by romantic people

Page 1 of 1

गजब की है फरमाइशें इस दिल-ऐ-नादान की , वो होते , हम होते और होंठों पे होंठ होते !!

undefined
Write a comment
Write a comment...